WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.15 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (1)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (2)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.17 PM (1)
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
previous arrow
next arrow
उत्तर प्रदेशउत्तरप्रदेशगाज़ियाबाद
Trending

गाजियाबाद बार एसोसिएशन के तत्वावधान में वाणिज्य कर भवन के कान्फ्रेंस हाल में बजट पर विस्तृत चर्चा

गाजियाबाद बार एसोसिएशन के तत्वावधान में वाणिज्य कर भवन के कान्फ्रेंस हाल में बजट पर आज दिनांक 3 फरवरी शाम 5:00 से 7:00 तक स्टडी सर्किल के चेयरमैन श्री अरविंद अग्रवाल के द्वारा आयोजित एवं भारत सरकार के वर्ष 2023 24 कर निर्धारण वर्ष 2024-25 पर विस्तृत चर्चा की गई जिसमें मुख्य वक्ता सीए श्री पवन कुमार रस्तोगी ने बजट की बारीकियों और टैक्स स्लैब, नई व पुरानी रेजीम के बारे में भी चर्चा की गई और डायरेक्ट और इनडायरेक्ट टैक्स को भी टैक्स अधिवक्ताओं के सामने बहुत सरल एवं वर्णित किया और बजट की बारीकियों को बहुत सरल ढंग से अधिवक्ताओं के सामने प्रस्तुत किया

और सरल भाषा में समझाया और वाणिज्य कर भवन का कान्फ्रेंस हाल खचाखच अधिवक्ताओं से भरा रहा और मुख्य वक्ता श्री के द्वारा सरल भाषा में व्याख्या प्रस्तुत की

इससे सभी का डायरेक्ट और इनडायरेक्ट टैक्स पर ज्ञानार्जन हुआ इस अवसर पर अरविंद अग्रवाल गाजियाबाद बार एसोसिएशन के स्टडी सर्किल के चेयरमैन ने सभी का आभार व्यक्त किया उक्त अवसर पर गाजियाबाद बार एसोसिएशन के प्रेसिडेंट श्री वाई के शर्मा

महामंत्री श्री सुनील दत्त त्यागी जी उपाध्यक्ष रमेश पांडे एडवोकेट,अजीत शर्मा एडवोकेट प्रिंस वाधवा, एडवोकेट दिवाकर एडवोकेट विकास वत्स एडवोकेट आशीष अग्रवाल एडवोकेट केएम गुप्ता एडवोकेट पवन अग्रवाल पूर्व अध्यक्ष श्री विशन कुमार शर्मा आदि अधिवक्ताओं की उपस्थिति प्रार्थनीय रही

जिन्होंने बहुत धैर्य पूर्वक भारत सरकार के वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण द्वारा संसद में दिए गए बजट पर चर्चा के व्याख्यान को भी एलेबोरेट किया समय के साथ चलने की सलाह भी दी और मुख्य वक्ता ने अधिवक्ताओं को हमेशाअपडेट रहने की भी सलाह दी तथा पठन-पाठन पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा तथा बजट में वर्णित सप्तर्षी सिद्धांत को भी बहुत बारीकी से समझा सभी के द्वारा मुक्त कंठ से बजट की सराहना की गई तथा रेलवे पर बढ़ाई गई धनराशि का स्वागत किया गया और बजट में इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के बारे में विस्तृत विवेचना की गई

Related Articles

Back to top button