WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.15 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (1)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (2)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.17 PM (1)
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
previous arrow
next arrow
उत्तरप्रदेश
Trending

पुलिस के बुलाने पर सीओ से गया था मिलने,गुर्गे गेट से युवक को जबरन पकड़ ले गए

##दस दिन का अल्टीमेटम देकर गुर्गों ने छोड़ा!

#सूदखोरों के आतंक से युवक ने छोड़ा है घर!

फर्जी कर्ज चुकाने को कराया दो बीघे जमीन का कराया एग्रीमेंट, अब पड़े जान के पीछे
/सुलतानपुर/आज पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुँच पीड़ित ने सुनाई एडिशनल एसपी को आप बीती। सूदखोरों और भू-माफ़ियाओं से दहशत में आये मोतिगरपुर के नानेमऊ निवासी रघुवीर निवासी गने बताया कि वह क्षेत्राधिकारी लम्भुआ कार्यालय से बुलावे पर 06 अगस्त को सुबह 11.30 बजे के करीब पहुंचा तो क्षेत्राधिकारी कहीं दौरे पर चले गये थे, मैं बाहर आया तो पहले से घात लगाकर बैठे गुर्गों ने हमको जबरन पकड़कर रेलवे लाइन के पास ले गये। उसने बताया कि पहले दबंगो ने उसका वीडियो बनाया और उसके साथ गाली गलौज करते हुए असलहा तान दिया और अपना शिकायती पत्र वापस लेने की धमकी दी। शिकायती पत्र वापस न लेने पर दस दिन के अन्दर मुझे और मेरे परिवार को जान से मारने की बात कहते हुए चले गये।उसने बताया कि क्षेत्र के एक बड़े दबंग का हाथ गुर्गो पर हैं।सभी का नाम शिकायती पत्र में उल्लिखित है।

दो दिन पूर्व निम्नवत खबर से जताया था पीड़ित ने अंदेशा!
(सुलतानपुर) मनबढ़ सूदखोरों ने एक व्यक्ति पर फर्जी कर्ज दिखाकर उसके बेटे से दो बीघा जमीन का बेचनामा लिखवा लिया. आरोप है कि पति पर गाड़ी चढ़वा दिया,ज़ब ट्रामा से महीनों बाद लौटा तो उसके घरवसूली करने गुर्गे पहुँच गए।।अभी तक तकरीबन 35 लाख वसूलकर लंभुवा में खड़ी कर ली बिल्डिंग नहीं देने व विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दे रहे है पीड़ित परिवार घर बार छोड़कर भगने पर मजबूर है।
नारायणपुर कांड दोहरा सकता है लंभुवा का दबंग
पीड़ित पहुँचा यूपी के मंत्री संजय निषाद की चौखट, विजय नारायण नामक युवक और उसके गुर्गों की चिट्ठी पहुँची डीएम के दफ्तर,मचा हड़कंप
आज वसूली करने गुर्गा पहुँचा पीड़ित के घर तो दहशत में आये युवक ने घर छोड़ा
आरोप है कि चन्द माह पूर्व
युवक पर चढ़ाई गयी थी गाड़ी
ट्रामा से लौटने पर की भनक माफियाओं को लगी तो सक्रिय हुए सूदखोर लकड़बग्घों ने निषाद पुत्र के घर भेजे गुर्गे।

Related Articles

Back to top button