WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.15 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (1)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (2)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.17 PM (1)
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
previous arrow
next arrow
उत्तरप्रदेश
Trending

नई शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर डीएलएड प्रशिक्षितों का महाधरना….

सीएम आवास की ओर कूच कर रहे प्रशिक्षितों को पुलिस ने रोका

लखनऊ। संवाददाता नई प्राथमिक शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर डीएलएड प्रशिक्षितों ने सोमवार को ईको गार्डेन में महाधरना दिया। भर्ती का विज्ञापन जारी न होने के नाराज डीएलएड व बीटीसी प्रशिक्षितों ने मुख्यमंत्री आवास की ओर पैदल मार्च निकालने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने उन्हें बैरीकेटिंग लगाकर रोक दिया। डीएलएड संघ के अध्यक्ष रजत सिंह ने बताया कि बेसिक शिक्षा विभाग ने बीते पांच वर्षों से अधिक समय से प्राथमिक शिक्षक भर्ती का विज्ञापन जारी नहीं हुआ है जबकि विभाग में हजारों रिक्त हैं। इसके बावजूद भर्ती विज्ञापन तक जारी नहीं किया गया। उन्होंने बताया कि विधानसभा चुनाव के दौरान तत्कालीन शिक्षा मंत्री ने 17 हजार शिक्षकों की भर्ती का आदेश दिया था लेकिन कुछ भी नहीं हुआ। इससे डीएलएड व बीटीसी प्रशिक्षित बहुत मायूस हैं। धरने पर बैठे प्रशिक्षितों ने बताया कि बीते 31 दिनों से प्रशिक्षित ईको गार्डेन में धरना दे रहे हैं लेकिन अभी तक कोई अधिकारी हमारी मांगों को सुनने तक नहीं आया है।

सिंचाई विभाग के 982 एई से विकल्प लेकर मनचाही तैनाती

अभियंता किसानों की खुशहाली व उनकी आय बढ़ाने का काम करें: स्वतंत्र देव

लखनऊ। विशेष संवाददाता प्रदेश के जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह की उपस्थिति में सोमवार को तेलीबाग स्थित परिकल्प भवन सभागार में सहायक अभियंता (सिविल) के 928 अभियंताओं को मनचाहे (ऐच्छिक) स्थानांतरण की प्रक्रिया पूरी की गई। सभी एई से स्थानांतरण कहां किया जाए इसके लिए विकल्प लिए गए हैं। इन विकल्पों के आधार पर स्थानांतरण का आदेश जल्द जारी किया जाएगा।इस मौके पर मंत्री ने कहा कि विभाग में भर्ती और पदस्थापना से लेकर स्थानांतरण तक की प्रक्रिया व्यवस्थित व पारदर्शी तरीके से की जा रही है। अभियंता कार्यभार ग्रहण करने के साथ ही किसानों की खुशहाली के लिए काम करें। उन्होंने कहा कि नहरों की सफाई का विशेष ध्यान दें। बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों से संबंधित परियोजनाओं को समय से पूरा कराएं। पारदर्शिता के साथ सभी को उनके द्वारा मांगे गए मनमाफ़िक जगह पर तैनात किया जा रहा है, इसलिए कार्यों में कहीं भी कोई लापरवाही नहीं मिलनी चाहिए।अन्नदाता किसानों को खुशहाल बनाएं। किसानों की आय बढ़ाना पहली प्राथमिकता होनी चाहिए। इस अवसर पर जलशक्ति राज्य मंत्री रामकेश निषाद, प्रमुख सचिव सिंचाई एवं जलसंसाधन अनिल गर्ग, प्रमुख अभियंता एवं विभागाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह, प्रमुख अभियंता परियोजना अखिलेश सचान आदि उपस्थित थे।

एनएचएम कर्मचारियों को नियमित की तरह वेतन मिले

एनएचएम संविदा कर्मचारी संघ के प्रतिनिधि मंडल ने डिप्टी सीएम से भेंट की

लखनऊ, वरिष्ठ संवाददाता।नेशनल हेल्थ मिशन (एनएचएम) संविदा कर्मचारियों ने वेतन विसंगति दूर करने की मांग की है। नियमित की भांति संविदा कर्मचारियों को वेतन व भत्ते प्रदान किए जाएं। सोमवार को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संघ के प्रतिनिधिमंडल ने डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक के आवास पर भेंट की। डिप्टी सीएम को अपना मांग पत्र सौंपा।राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संघ के महामंत्री आदित्य भारती व उत्तर प्रदेश क्षयरोग वरिष्ठ उपचार पर्यवेक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष करुणा शंकर मिश्र ने बताया कि लंबे समय से वेतन विसंगति चल रही है। इसे जल्द दूर किया जाए। नियमित कर्मचारियों की भांति वेतन-भत्ते प्रदान किए जाएं। आउटसोर्सिंग कर्मचारियों एमसीटीएस, एचएमआईएस व आईडीएसपी डाटा ऑपरेटर के डीएचएस में समायोजन किया जाए। कोविड कर्मचारियों का कार्यकाल मार्च बाद बढ़ाने और समायोजन किया गया।डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने कहा कि कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान किया जाएगा। इस संबंध में एनएचएम निदेशक को निर्देश दिए। डिप्टी सीएम ने बीमा पॉलिसी व स्थानांतरण व्यवस्था को जल्द ही लागू कराने का भरोसा दिया। इस अवसर पर डॉ. शकील अहमद और प्रशांत कुमार उपस्थित रहे।

प्रदेश के नौ जिलों में भारी बारिश और ओलावृष्टि से फसलों का हुआ नुकसान

राहत आयुक्त कार्यालय को मिली सभी 75 जिलों से रिपोर्ट

डीएम की देखरेख में नुकसान का कराया गया आकलन

लखनऊ- विशेष संवाददाता।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सख्त निर्देश के बाद जिलों ने एक से तीन मार्च के बीच हुई बारिश और ओलावृष्टि से फसलों के नुकसान का आकलन करते हुए रिपोर्ट राहत आयुक्त कार्यालय को भेज दी है। प्रदेश के नौ जिले ऐसे हैं जहां 33 फीसदी से 45 फीसदी के बीच फसलों का नुकसान हुआ है।राहत आयुक्त कार्यालय द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक सभी जिलों में डीएम की देखरेख में फसलों की क्षति का आकलन कराया गया है। प्रभावित किसानों को अब इसके आधार पर फसलों की क्षतिपूर्ति की जाएगी। रिपोर्ट के मुताबिक बांदा में अतर्रा व नरैनी तहसील में सरसों मटर व चना की करीब 30 फीसदी फसलें खराब हुई हैं। नरैनी में 17 गांव प्रभावित हुए हैं।बस्ती सदर के 35 गांवों में 33 फीसदी फसलों का नुकसान हुआ है। चित्रकूट के मानिकपुर और राजापुर के 10 गांवों में 33 फीसदी फसलों का नुकसान हुआ है। जालौन में सदर, उरई, कालपी, कोंच व माधौगढ़ के कुल 323 गांवों में 33 फीसदी फसलों का नुकसान हुआ है। झांसी में कुल 32 गांवों में 33 फीसदी फसलों का नुकसान हुआ है।ललितपुर में सदर, तालबेहट, महरौनी और पाली के 85 गांवों में 40 से 42 फीसदी फसलों का नुकसान हुआ है। महोबा में सदर, चरखारी व कुलपहाड़ के 93 गांवों में 40 से 45 फीसदी फलसों का नुकसान हुआ है। सहारनपुर में देवबंद व सदर के 62 गांवों में 33 फीसदी फसलों का नुकसान हुआ है। शामली में कैराना, उन और शामली के 29 गांवों में 33 फीसदी फसलों का नुकसान हुआ है।

प्रदेश के पांच और जिलों में खुलेंगे सर्वोदय विद्यालय

गौतमबुद्धनगर, शामली, कन्नौज, बागपत व शाहजहांपुर में खुलेंगे

लखनऊ- विशेष संवाददाता मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संत रविदास मिशन के तहत प्रदेश के पांच असेवित जिलों गौतमबुद्धनगर, शामली, कन्नौज, बागपत और शाहजहांपुर में सर्वोदय विद्यालय खोलने की अनुमति दे दी है। इसके लिए इन जिलों में पांच-पांच एकड़ जमीन चिह्नित कर ली गई है। सर्वोदय विद्यालयों में छात्रावास, विद्यालय भवन, खेलकूद के मैदान सहित सभी जरूरी सुविधाएं होंगी। इन विद्यालयों में कक्षा 6 से 12 तक कुल 490 बच्चों को शिक्षा दी जाएगी।समाज कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) असीम अरुण ने सोमवार को बताया कि नई शिक्षा नीति की मंशा के अनुरूप इन विद्यालयों में शिक्षा दी जाएगी। साथ ही अभ्युदय केंद्र के माध्यम से जेईई, नीट आदि प्रतियोगी परीक्षाओं की मुफ्त कोचिंग की सुविधा भी यहां मिलेगी। समाज कल्याण विभाग सभी वर्गों के बीपीएल परिवार के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को मुफ्त आवासीय शिक्षा देने के उद्देश्य से 105 जय प्रकाश नारायण सर्वोदय विद्यालय और एकलव्य विद्यालय चला रहा है।उन्होंने बताया कि इनमें से नौ सर्वोदय और दो एकलव्य विद्यालय अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं के लिए संचालित किए जा रहे हैं। जहां कक्षा 6 से 12 तक के 35000 छात्र-छात्राओं को छात्रावास, पाठ्य पुस्तकें, यूनिफॉर्म, मेस, लाइब्रेरी, प्रयोगशाला, कंप्यूटर व टैब-लैब, जेईई, नीट की मुफ्त कोचिंग, कौशल विकास प्रशिक्षण इत्यादि की समस्त सुविधाएं दी जा रही हैं।

पेंशनरों की समस्याओं को दूर करे सरकार

संयुक्त पेंशनर्स कल्याण समिति उप्र. के बैनर तले पेंशनरों ने धरना दिया

लखनऊ, संवाददाता।संयुक्त पेंशनर्स कल्याण समिति उप्र.के बैनर तले पेंशनरों ने कर्मचारी प्रेरणा स्थल हजरतगंज स्थित स्व. बीएन सिंह की प्रतिमा पर एक दिवसीय धरना दिया। धरने की अध्यक्षता इं. आरके भाटिया ने किया। वक्ताओं ने कहा कि कई बार पत्राचार के बावजूद सरकार पेंशनरों की समस्याओं को नजरंदाज कर रही है, जिससे पेंशनर्स में रोष है। समिति की ओर से मुख्यमंत्री को संबोधित 17 सूत्री मांग पत्र प्रशासनिक अफसर को सौंपा गया।मांग हुई कि वित्त विभाग के प्रमुख सचिव की अध्यक्षता में गठित पेंशनर सलाहकार समिति की बैठक समयानुसार हो। 30 जून व 31 दिसंबर को सेवानिवृत्त होने वाले कार्मिकों को काल्पनिक वेतनवृद्धि का लाभ मिले। 65, 70 व 75 साल की आयु पर क्रमशः पांच, 10 व 15 फीसदी की पेंशनवृद्धि की जाए। सेवानिवृत्ति के समय राशिकृत धनराशि की 15 साल के बजाय 12 साल में बहाली हो। विधवा पुत्रवधू को पारिवारिक पेंशन का लाभ मिले। तदर्थ सेवाओं को पेंशन लाभ मिले। केंद्रीय कर्मचारियेां की तरह अप्रैल 2005 के पूर्व विज्ञाप्ति पदों के सापेक्ष्य नियुक्त कार्मिकों को पुरानी पेंशन योजना का लाभ दिया जाए। नई पेंशन योजना के तहत नियुक्त कार्मिकों को सेवानिवृत्ति के बाद भी पूर्ववत निःशुल्क चिकित्सा सुविधा दी जाए। पं. दीनदयाल उपाध्याय निःशुल्क चिकित्सा योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन-पत्र प्रेषित करने और हेल्थ कार्ड डाउनलोड कराने की प्रक्रिया का सरलीकरण किया जाए। धरने में इं. दिवाकर राय, इं. बीके सिंह, इं. रतन सिंह, आरएस ओझा, ओंकार त्रिपाठी, रीता अवस्थी, अशोक कुमार दुबे आदि रहे।

छह केंद्रों पर मिले सात सॉल्वर दो केंद्र व्यवस्थापकों पर केस

अलग-अलग केंद्रों पर सात छात्र व तीन छात्राएं नकल करती पकड़ी गईं 

प्रयागराज। संवाददाता। यूपी बोर्ड की परीक्षा में सोमवार को दोनों पालियों में सात बालक एवं तीन बालिकाओं समेत दस परीक्षार्थी नकल करते हुए पकड़े गए। गाजीपुर से दो तथा रामपुर, सुल्तानपुर, बाराबंकी, प्रतापगढ़, बस्ती में एक-एक सॉल्वर पकड़ा गया है। एटा जिले के दो केंद्र व्यवस्थापकों को अनियमितता करने पर कानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ा है। इनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। सात फर्जी परीक्षार्थियों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज हुई है।बोर्ड सचिव दिब्यकांत शुक्ल ने बताया कि प्रथम पाली में हाईस्कूल अंग्रेजी एवं इंटर कम्प्यूटर, व्यवसायिक एवं कृषि वर्ग की परीक्षा प्रदेश के 8,272 परीक्षा केंद्रों पर हुई। परीक्षा में 28, 75,055 परीक्षार्थियों में से 1,68,058 परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे। इसी प्रकार द्वितीय पाली में हाईस्कूल सुरक्षा एवं इंटर में भौतिक विज्ञान, मनोविज्ञान, शिक्षाशास्त्रत्त्, तर्कशास्त्रत्त् की परीक्षा 8,124 परीक्षा केंद्रों पर हुई। द्वितीय पाली में 17,36,106 परीक्षार्थियों में 83,398 अनुपस्थित रहे। कुल मिलाकर दोनों पालियों में 2,51,456 परीक्षार्थी परीक्षा देने नहीं आए।

आज 13 लाख से अधिक परीक्षार्थी देंगे परीक्षा :

मंगलवार को प्रथम पाली में गृहविज्ञान की परीक्षा 7,934 केंद्रों पर होगी। इस विषय में 8,51,198 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। इंटर में व्यवसायिक वर्ग के विषयों की परीक्षा 1097 परीक्षा केंद्रों पर होगी। इंटर परीक्षा में 32,631 परीक्षार्थी सम्मिलित होंगे। इसी प्रकार द्वितीय पाली में हाईस्कूल की कंप्यूटर विषय की परीक्षा 2277 परीक्षा केंद्रों पर होगी। हाईस्कूल में 68,018 परीक्षार्थी सम्मिलित होंगे। इंटर में भूगोल एवं कृषि वर्ग की विषय की परीक्षा 6,116 केंद्रों पर होगी। इंटर में 3,48,600 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं।

एमटेक साइबर सिक्योरिटी और एआई में 20-20 सीट पर प्रवेश

समय की मांग को देखते हुए दोनों विषयों में पार्ट टाइम एमटेक की शुरू होगी पढ़ाई 

आईएमएस के छात्रों को केस स्टडी के बारे में बताया गया

12 सितंबर, 2023 को बैठक में मंजूरी मिली

लखनऊ, संवाददाता। लखनऊ विश्वविद्यालय में आगामी सत्र से साइबर सिक्योरिटी व आर्टीफिशियल इंटेलिजेंस में पार्ट टाइम एमटेक की पढ़ाई शुरू होगी। इसका सिलेबस तैयार कर लिया गया है। फैकल्टी बोर्ड की बैठक में मंजूरी दी जाएगी।एलयू में सत्र 2024-25 से दो नए विषयों में पार्ट टाइम एमटेक की पढ़ाई आरंभ होगी। बीते वर्ष 12 सितंबर, 2023 को हुई विद्या परिषद बैठक में पाठ्यक्रम को शुरू करने की मंजूरी दी गई थी। इसके मद्देनजर विवि के इंजीनियरिंग संकाय में कंप्यूटर साइंस स्पेशलाइजेशन इन एआई और कंप्यूटर साइंस स्पेशलाइजेशन इन साइबर सिक्योरिटी में पार्ट टाइम एमटेक पाठ्यक्रम की शुरूआत होगी। दोनों पाठ्यक्रमों में 20-20 सीट पर दाखिले लिए जाएंगे।जानकारी के अनुसार बता दें कि अधिष्ठाता इंजीनियरिंग संकाय प्रो. एके सिंह ने बताया कि समय की मांग के अनुसार एआई और साइबर सिक्योरिटी में पार्ट टाइम एमटेक कोर्स शुरू किया जा रहा है। जिसका सिलेबस तैयार कर लिया गया है।

माह के अंत में फैकल्टी बोर्ड की बैठक

अधिष्ठाता प्रो. एके सिंह का कहना है कि इसी माह के अंत तक फैकल्टी बोर्ड की बैठक का आयोजन किया जाएगा। जिसमें एआई और साइबर सिक्योरिटी के पार्ट टाइम पाठ्यक्रम के सिलेबस समेत अन्य मुद्दों को पास कराने की कोशिश रहेगी।

बीजेएमसी, एमए, एलएलबी का रिजल्ट जारी किया गया 

विषम सेमेस्टर परीक्षा-2020 के नतीजे जारी

एलयू की वेबसाइट पर देख सकते हैं विद्यार्थी

लखनऊ, संवाददाता। लखनऊ विश्वविद्यालय में कई पाठ्यक्रमों के रिजल्ट जारी कर दिए गए हैं। परीक्षार्थी विवि की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं।एलयू में विषम सेमेस्टर परीक्षा-2023 के तहत स्नातक और परास्नातक स्तर के पाठ्यक्रमों के नतीजे जारी कर दिए गए हैं। इसमें बीजेएमसी एनईपी, एमकॉम सीबीसीएस एप्लाइड इक्नॉमिक्स के प्रथम सेमेस्टर का परीक्षाफल घोषित किया गया है। एमए हिन्दी, भूगोल, एआईएच प्रथम सेमेस्टर और एमए रक्षा अध्ययन तृतीय सेमेस्टर का भी परिणाम घोषित किया गया है। इसी तरह एलएलबी पांच वर्षीय 2017, 2018 और 2019 के सातवें व पांचवे सेमेस्टर के रिजल्ट घोषित कर दिए गए है। प्रवक्ता प्रो. दुर्गेश श्रीवास्तव का कहना है कि परीक्षार्थी एलयू की वेबसाइट पर रिजल्ट देख सकते हैं।

आक्रोश:डिजिटलाइजेशन के विरोध में प्राथमिक शिक्षकों ने किया प्रदर्शन

शिक्षकों की समस्याओं के समाधान को विभाग गंभीर नहीं

द्वितीय शनिवार और अर्ध आकस्मिक अवकाश अनुमन्य हो

सिद्धार्थनगर, हिन्दुस्तान टीम। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय नेतृत्व के आह्वान पर सोमवार को जिले के सभी बीआरसी पर शिक्षकों ने डिजिटलाइजेशन के विरोध में धरना प्रदर्शन किया और महानिदेशक स्कूल शिक्षा को संबोधित ज्ञापन बीईओ को सौंपा।बीआरसी खुनियांव पर प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष राधेरमण त्रिपाठी के नेतृत्व में शिक्षक एकत्रित हुए। जिलाध्यक्ष ने कहा कि शिक्षक की समस्याओं के समाधान को लेकर विभाग गंभीर नहीं है। प्रदेश स्तर पर समिति बनने के बाद भी अभी तक किसी समस्या का समाधान नहीं हुआ। अंत में खंड शिक्षा अधिकारी ओपी मिश्र को महानिदेशक को संबोधित ज्ञापन सौंपा। बीआरसी उस्का बाजार पर जिला उपाध्यक्ष रूपेश सिंह के नेतृत्व में शिक्षकों ने ज्ञापन सौंपा। वक्ताओं ने कहा कि शिक्षकों को भी राज्य कर्मचारियों की भांति एक कैलेंडर वर्ष में 31 दिवस का उपार्जित अवकाश, द्वितीय शनिवार को अवकाश व अर्ध आकस्मिक अवकाश अनुमन्य किया जाय। इस दौरान अभय श्रीवास्तव, शिवाकांत दुबे, गुलाब चंद्र, आशुतोष उपाध्याय, सुभाष जायसवाल, प्रदीप त्रिपाठी आदि मौजूद रहे। बीआरसी शोहरतगढ़ पर जिला मंत्री योगेंद्र पांडेय के नेतृत्व में ज्ञापन सौंपा गया। यहां लालजी यादव, कमलाकांत यादव, कृपाशंकर त्रिपाठी आदि मौजूद रहे। बीआरसी इटवा में शिक्षकों ने बीईओ महेन्द्र प्रसाद को ज्ञापन सौंपा। यहां ब्लॉक अध्यक्ष करुणेश मौर्य, हरिश्चन्द आदि मौजूद रहे। बीआरसी डुमरियागंज में बीईओ संजय कुमार को ज्ञापन सौंपा गया। यहां ब्लॉक अध्यक्ष दिनेश सिंह, सुनील सिंह, श्रीश चंद्र, अजीत कोरिया, नसीम अहमद, मोहम्मद सलीम आदि मौजूद रहे।

शिक्षकों ने महानिदेशक को भेजा ज्ञापन

खेसरहा। बीआरसी खेसरहा पर सोमवार को शिक्षकों ने महानिदेशक को संबोधित ज्ञापन बीईओ नीरज कुमार सिंह को सौंपा। ब्लॉक अध्यक्ष गयानंद मिश्र, राजेश्वर मिश्र, उमेश मिश्र, आदित्य पांडेय, इंद्रसेन सिंह, सुधाकर, नीरज मिश्र, शशिकांत आदि मौजूद रहे। बीआरसी बर्डपुर में खंड शिक्षा अधिकारी अरुण कुमार के माध्यम से ज्ञापन दिया गया। यहां ब्लॉक अध्यक्ष शैलेंद्र कुमार मिश्र, मोहिउद्दीन, बलवंत चौधरी, शब्बीर अहमद, प्रवीण उपाध्याय आदि मौजूद रहे

रात से सुबह तक बढ़ेगी ठंड, गिरेगा पारा

हिन्दुस्तान टीम,लखनऊ।पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव सोमवार का दिन चढ़ने के साथ कमजोर होता गया। शाम तक आसमान साफ हो गया। मौसम विभाग के अनुसार हवा का रुख पछुआ होने के साथ गति बढ़ने पर रात को तापमान में गिरावट होगी। सोमवार शाम से ही हवा में तेजी आनी शुरू हो गई। लखनऊ में हवा की गति 10 से 15 किलोमीटर प्रतिघंटा रही। मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के असर से जहां मैदानी इलाकों में बारिश और ओलावृष्टि हुई तो वहीं, पहाड़ों पर बर्फबारी हुई। अब बर्फीले इलाकों से हो कर आने वाली पछुआ हवा से रात के तापमान में दो से तीन डिग्री की गिरावट आ सकती है। वहीं, आसमान साफ रहने से दिन के तापमान में थोड़ी बढ़ोतरी होगी। सोमवार को अधिकतम पारा सामान्य से 3.7 डिग्री कम दर्ज किया गया। यह 25.9 डिग्री रहा। न्यूनतम तापमान 14.3 डिग्री दर्ज किया गया।

आज कैसा रहेगा मौसम

अमौसी स्थित मौसम केन्द्र के अनुसार मंगलवार को आसमान साफ रहेगा। इस दौरान अधिकतम पारा 26 डिग्री के आसपास रह सकता है। न्यूनतम तापमान सोमवार के मुकाबले कम रहेगा। यह 12 डिग्री के आसपास रहने का पूर्वानुमान है।

प्राविधिक सहायक ग्रुप सी के 3446 पदों पर भर्ती के लिए आवेदन एक मई से,सुप्रीम कोर्ट की अनुमति पर 2384 को भी मौका

लखनऊ- विशेष संवाददाता।उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग कृषि विभाग के अधीन प्राविधिक सहायक ग्रुप सी के 3446 पदों पर भर्ती करने जा रहा है। इसके लिए एक मई से आवेदन लिए जाएंगे और अंतिम तिथि 31 मई है। इसमें किसी भी तरह का संशोधन सात जून तक किया जा सकेगा। आवेदन के लिए प्रारंभिक अर्हता परीक्षा-2023 वाले पात्र होंगे। आवेदन आयोग की वेबसाइट https://upsssc.gov.in पर04 Mar 2024 08:45 PM ऑनलाइन आवेदन लिए जाएंगे।आयोग के अध्यक्ष प्रवीर कुमार की अनुमति के बाद सचिव अवनीश सक्सेना ने सोमवार को भर्ती संबंधी विज्ञप्ति जारी की। आयोग ने सुप्रीम कोर्ट की अनुमति पर 2384 अभ्यर्थियों को भी शामिल होने की अनुमति दी है। ये वे अभ्यर्थी हैं जिन्होंने वर्ष 2013 में लोक सेवा आयोग में आवेदन किया था, लेकिन कृषि विभाग की वजह से परीक्षा में शामिल नहीं हो पाए। इनमें से 906 तो ऐसे हैं जिनका चयन होने के बाद भी ज्वाइंनिंग नहीं हो पाई। ऐसे अभ्यर्थियों को आयु सीमा में छूट देने के साथ ही पीईटी परीक्षा से छूट भी दिया गया है। इसकी सूची आयोग के वेबसाइट पर प्रकाशित की जाएगी।ऑनलाइन आवेदन के लिए सभी वर्गों के लिए 25 रुपये शुल्क रखा गया है। मुख्य परीक्षा के लिए चयन होने वालों से अलग से शुल्क लिया जाएगा। कुल पदों में 1813 अनारक्षित, 509 अनुसूचित जाति, 151 अनुसूचित जनजाति, 629 अन्य पिछड़ा वर्ग और 344 पद आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए आरक्षित है। इसके लिए 21 से 40 वर्ष की आयु वाले पात्र होंगे। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ कृषि सेवा नियमावली 2019 के अनुसार मान्यता प्राप्त किसी भी विश्वविद्यालय से कृषि में स्नातक या इसके समकक्ष योग्यता वाले पात्र होंगे।

टैबलेट चलाने के लिए सिम न देने पर शिक्षकों ने जताया विरोध

लखनऊ। कार्यालय संवाददाता:उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ उत्तर प्रदेश ने डिजिटाइजेशन के विरोध में स्कूल महानिदेशक को संबोधित ज्ञापन खंड शिक्षा अधिकारी को सौंपा। सभी ब्लॉक तथा नगर क्षेत्र में शिक्षकों ने ज्ञापन देकर विरोध जताया।शिक्षक प्रतिनिधियों ने कहा कि सरकार शिक्षकों को टैबलेट तो दे रही है लेकिन सिम उपलब्ध नहीं करा रही है और न शिक्षकों की समस्याओं के समाधान पर विचार कर रही है। जब सिम देने में विभाग का एक पैसे का खर्चा नहीं होना है और केवल विभाग के कहने पर कंपनियां सिम निशुल्क उपलब्ध कराने के लिए तैयार है। शिक्षकों की समस्याओं का जब तक निदान नही किया जाता है तब तक इस व्यवस्था का विरोध जारी रहेगा। विरोध के क्रम में विकासखंड चिनहट में ब्लॉक अध्यक्ष विजय कुमार ,काकोरी में ब्लॉक अध्यक्ष अजय सिंह, मॉल में ब्लॉक अध्यक्ष प्रदीप सिंह मलिहाबाद में अध्यक्ष अवधेश कुमार, सरोजिनी नगर में मंत्री धीरेंद्र गौतम और मोहनलालगंज के अध्यक्ष सुशील मिश्रा, गोसाईगंज के अध्यक्ष योगेंद्र सिंह तथा नगर क्षेत्र के अध्यक्ष संदीप कुमार सिंह व मंत्री अभय प्रकाश के नेतृत्व में ज्ञापन दिया गया।

प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल महामारी के समान 

प्रयागराज, विधि संवाददाता। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दूसरे की जगह परीक्षा देने के आरोपी रोशन सिंह को जमानत पर रिहा करने से इनकार कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल महामारी (इपेडमिक) बन गई है, जिसका समाज, शिक्षा तंत्र और योग्य अभ्यर्थियों पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है। कोर्ट ने कहा कि ऐसे अपराधियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होनी चाहिए। कोर्ट ने राज्य सरकार को प्रतियोगी परीक्षाओं की शुचिता बनाए रखने व योग्य प्रतियोगियों का परीक्षा तंत्र पर भरोसा कायम रखने के लिए इस तरह के अपराधियों पर सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।यह आदेश न्यायमूर्ति मंजूरानी चौहान ने रोशन सिंह की जमानत अर्जी खारिज करते हुए दिया है। कोर्ट ने जिम्मेदार एजेंसियों की नकल पर प्रभावी रूप से लगाम लगाने में नाकामी को राज्य के लिए दुखद स्थिति बताते हुए कहा कि वे धोखेबाजों को पकड़ने में विफल है। कोर्ट ने आदेश की प्रति प्रमुख सचिव विधि एवं न्याय को कानून मंत्री के समक्ष रखने का निर्देश दिया है। मामले के तथ्यों के अनुसार आर्य कन्या इंटर कॉलेज बांदा की प्राचार्या पूनम गुप्ता ने कोतवाली नगर में एफआईआर दर्ज कराई कि 26 जून 2023 को ग्राम विकास अधिकारी भर्ती 2018 की पुनर्परीक्षा चल रही थी। तभी लखनऊ कंट्रोल रूम से फोन आया कि रंजन गुप्ता का बायोमेट्रिक संदिग्ध है। इस पर जांच की गई तो रंजन गुप्ता के स्थान पर उसके नाम से रोशन सिंह को परीक्षा देते हुए पाया गया। याची का कहना था कि उसे झूठा फंसाया गया है। उसकी मौके से गिरफ्तारी नहीं की गई है। सह अभियुक्त को जमानत मिल चुकी है इसलिए उसे भी जमानत पर रिहा किया जाए। सुनवाई के बाद कोर्ट ने याची को जमानत पर रिहा करने का आदेश देने से इनकार कर दिया।

गोण्डा में स्कूल प्रधानाचार्य की गोली मारकर हत्या 

बभनान (गोंडा), संवाददाता। क्षेत्र के सीडी यादव इंटर कॉलेज के प्रबंधक के घर वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने आए प्रधानाचार्य दिनेश यादव की बदमाशों ने रविवार रात गोली मार कर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि बीते 26 जनवरी को छात्राओं से छेड़छाड़ का विरोध करने पर घटना को अंजाम दिया गया है।एसपी विनीत जायसवाल समेत अन्य अफसरों ने पीड़ित परिवार को न्याय का भरोसा दिलाया है। परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने अजय वर्मा, रज सिंह के खिलाफ नामजद केस दर्ज करके एक आरोपी को हिरासत में ले लिया है।छपिया क्षेत्र के ग्राम फूलपुर के निवासी दिनेश यादव (32) सिसहनी स्थित सीडी यादव इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य थे।

सिद्धार्थनगर के चकबंदी अधिकारी सेवा से बर्खास्त 

लखनऊ, विशेष संवाददाता। मुख्यमंत्री के भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस नीति के तहत सोमवार को सिद्धार्थनगर के चकबंदी अधिकारी प्रभाकर को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया। उन पर आरोप है कि उन्होंने मेरठ में रहने के दौरान नाला और वन विभाग की भूमि लोगों के नाम पर मनमाने तरीके से कर दिया।चकबंदी आयुक्त जीएस नवीन कुमार ने बताया कि ग्राम बिसौला हस्तिनापुर मवाना मेरठ और ग्राम फिरोजपुर किठौर मवाना मेरठ में चकबंदी के कामों में अनियमितता की शिकायत जांच समिति बनाते हुए कराई गई। रिपोर्ट के मुताबिक ग्राम बिसौला और फिरोजपुर में चकबंदी के कामों में अनियमितता की पुष्टि हुई। इसके आधार पर यह कार्रवाई की गई है। उन्होंने बताया कि इसके साथ ही चकबंदी अधिकारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए गए हैं। संबंधित जमीन को वापस लेने के निर्देश दिए गए हैं। धोखाधड़ी से भूमि प्राप्त करने वालों के खिलाफ भी विधिक कार्रवाई के लिए निर्देश दिया गया है।

सिपाही भर्ती पेपर लीक में दो और आरोपी गिरफ्तार 

इटवा (सिद्धार्थनगर), हिन्दुस्तान संवाद। इटवा थाने की पुलिस ने यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले से जुड़े दो और आरोपितों को सोमवार को बीएसए ग्राउंड सिद्धार्थनगर से गिरफ्तार कर लिया है। दोनों जेल में बंद सॉल्वर गैंग के अपने साथियों से मिलने पहुंचे थे। पकड़े गए आरोपितों में एक बिहार तो दूसरा बलिया का रहने वाला है। इटवा थानाध्यक्ष संतोष कुमार तिवारी ने बताया कि पकड़े गए आरोपितों की पहचान बिहार के बक्सर जिले के सिमरी थाना क्षेत्र स्थित नियाजीपुर मोहल्ला टेकमन का डेरा निवासी सतीश कुमार यादव उर्फ राज उर्फ गुरुजी तथा बलिया जिले के फेफना थाना क्षेत्र स्थित कटरिया निवासी सोनू यादव के रूप में हुई है।

एक परीक्षा केंद्र डिबार, छह को नोटिस 

प्रयागराज। संवाददाता । यूपी बोर्ड परीक्षा के दौरान आगरा के बहरावती नगला स्थित मां चंद्रबली रामजीलाल इण्टर कॉलेज को जहां डिबार (ब्लैकलिस्ट) कर दिया गया है, वहीं छह केंद्रों को डिबार किए जाने का नोटिस जारी कर दो दिन में जवाब देने को कहा गया है। संतोषजनक जवाब न मिलने पर इन्हें भी डिबार घोषित करने की कार्रवाई की जाएगी। इसमें प्रयागराज के भी दो केंद्र शामिल हैं।बोर्ड सचिव दिब्यकांत शुक्ल ने बताया कि परिषद मुख्यालय में स्थापित कंमाड एंड कंट्रोल सेंटर से परीक्षा केन्द्रों की मॉनीटरिंग के दौरान छह परीक्षा केन्द्र संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त पाए गए।आगरा के पनवारी स्थित रतन समाज इण्टर कॉलेज व बाल मुकुन्द आदर्श इण्टर कॉलेज, इटावा के जसवंत नंगर धौलपुर स्थित धनीराम शाक्य इण्टर कालेज, अलीगढ़ कुराना धनीपुर स्थित डीआरजी इण्टर कालेज, प्रयागराज के सोरांव स्थित आदर्श जनता इण्टर कॉलेज व फूलपुर स्थित शहीद ऊधम सिंह मेमोरियल इण्टर कॉलेज के केन्द्र व्यवस्थापकों को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए दो दिन के अन्दर जवाब मांगा गया है।

प्रकरण छिपाने पर आगरा का सेंटर ब्लैकलिस्टेड

आगरा के बहरावती नगला स्थित मां चंद्रबली रामजीलाल इण्टर कॉलेज को डिबार (ब्लैकलिस्ट) कर दिया गया है। बोर्ड सचिव ने बताया कि राज्य स्तरीय पर्यवेक्षक मुकेश अग्रवाल, संयुक्त शिक्षा निदेशक (शिक्षा निदेशालय) एवं मीडिया के माध्यम से यह तथ्य प्रकाश में आया था कि दो मार्च को द्वितीय पाली (इण्टरमीडिएट अंगेजी) की परीक्षा के दौरान एक परीक्षार्थी उत्तरपुस्तिका लेकर परीक्षा केन्द्र से भाग गया था। आरोपी छात्र के विरुद्ध केन्द्र व्यवस्थापक की ओर से कोई विधिक कार्यवाही नहीं की गई एवं प्रकरण को छिपाने का प्रयास किया गया जिससे उनकी संलिप्तता स्पष्ट रूप से परिलक्षित होती है।

13 दिन में 3.1 करोड़ उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन

प्रयागराज। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा-2023 की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन की कवायद शुरू हो गई है। नौ मार्च को बोर्ड की परीक्षाएं समाप्त हो रही हैं। 16 मार्च से उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन शुरू हो जाएगा। इस बार बोर्ड परीक्षा के तीन करोड़ से ज्यादा उत्तर पुस्तिकाओं को जांचने के लिए 147097 शिक्षक नियुक्त किए गए हैं। 13 दिन में मूल्यांकन कार्य पूरा कर लिया जाएगा। यह जानकारी बोर्ड सचिव दिब्यकांत शुक्ल ने सोमवार को दी है। उन्होंने बताया कि सूबे की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य 16 से 31 मार्च तक चलेगा। कुल 13 कार्य दिवसों में मूल्यांकन समाप्त हो जाएगा। होली के चलते 24 से 26 मार्च तक मूल्यांकन कार्य स्थगित रहेगा। सचिव ने बताया कि यूपी बोर्ड 2024 की हाईस्कूल परीक्षा की 1.76 करोड़ उत्तर-पुस्तिकाओं के मूल्याकन कार्य के लिए 94,802 एवं इंटरमीडिएट परीक्षा की 1.25 करोड़ उत्तर-पुस्तिकाओं के मूल्याकन कार्य के लिए 52.295 परीक्षकों को नियुक्त किया गया है। हाईस्कूल की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन कार्य के लिए 131 एवं इंटरमीडिएट की उत्तर-पुस्तिकाओं के मूल्यांकन कार्य के लिए 116 मूल्यांकन केन्द्र निर्धारित किए गए हैं।

वायरल हुए पेपर से नकल माफिया तक पहुंचेगी पुलिस 

प्रयागराज। आरओ-एआरओ परीक्षा में पेपर लीक होने का आरोप लगते ही मुख्यमंत्री के आदेश पर यूपी एसटीएफ को जांच सौंप दी गई थी। एसटीएफ इसकी जांच कर रही है। इधर, लोकसेवा आयोग ने छात्रों से पेपर लीक संबंधित साक्ष्य मांगे। पेपर लीक होने की पुष्टि होते ही लोकसेवा आयोग ने मुकदमा दर्ज करा दिया। अब सिविल लाइंस पुलिस ने लोकसेवा आयोग से पेपर लीक से संबंधित साक्ष्य मांगे हैं। पुलिस अब वायरल पेपर की मदद से नकल माफिया के गिरेबान तक पहुंचेगी आरओ-एआरओ का पेपर सोशल मीडिया पर वायरल रहा। परीक्षा खत्म होने से पहले प्रतियोगी छात्रों के व्हाट्सएप ग्रुप पर पेपर पहुंच गया था। उसी पेपर और सॉल्व पेपर की मदद से अब नकल माफिया तक पुलिस पहुंचेगी। साइबर सेल की मदद ली जा रही है। दरअसल वायरल पेपर और उत्तर कुंजी की तफ्तीश के लिए पुलिस पूरी चेन बना रही है। आयोग को मिली शिकायतों के आधार पर पुलिस जांच कर रही है कि किसने पहले वायरल प्रश्न भेजा था। छात्रों को कहां से जानकारी मिली। इस तरह कड़ी से कड़ी जोड़ी जा रही है। इसकी मदद से पुलिस आखिरी कड़ी तक पहुंचेगी। इसके बाद नकल माफिया को ट्रेस करना आसान हो जाएगा। सर्विलांस की मदद से इस बात की जांच की जा रही है कि कहीं साजिश के तहत इसे अंजाम तो नहीं दिया गया है। लोकसेवा आयोग को बदनाम करने के लिए इसे वायरल तो नहीं किया गया। इन सभी बिंदुओं पर तफ्तीश जारी है। नकल माफिया की परीक्षा केंद्र से सेटिंग हुई थी या आयोग के कर्मचारियों की मिली भगत है, सभी एंगल पर जांच होना अभी बाकी है।

आरओ/एआरओ परीक्षा : पेपर लीक प्रकरण में मुकदमा दर्ज 

प्रयागराज। आरओ/एआरओ भर्ती 2023 की प्रारंभिक परीक्षा में गड़बड़ी सामने आने पर परीक्षा नियंत्रक अजय कुमार तिवारी को हटाने के बाद लोकसभा आयोग के सचिव अशोक कुमार ने पेपर लीक प्रकरण में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। इस केस में परीक्षा अधिनियम और साइबर क्राइम के अलावा कूट रचना की धाराएं भी लगी हैं। पेपर लीक प्रकरण की सिविल लाइंस पुलिस ने क्राइम ब्रांच की मदद से तफ्तीश शुरू कर दी है।लोक सेवा आयोग के सचिव अशोक कुमार ने एफआईआर दर्ज कराई है कि 11 फरवरी 2024 को दो पालियों में समीक्षा अधिकारी-सहायक समीक्षा अधिकारी (प्रारंभिक) परीक्षा 2023 आयोजित की गई थी। इसके बाद पेपर लीक का प्रकरण सामने आया। सोशल मीडिया पर वायरल प्रथम प्रश्नपत्र (सामान्य अध्ययन) के 103 प्रश्न व उसके उत्तर में कोई सीरीज अंकित नहीं है, लेकिन बी सीरीज के प्रश्नपत्र से मेल खाते हैं। इसी तरह द्वितीय प्रश्नपत्र (सामान्य हिन्दी) के 25 प्रश्न व उसके उत्तर में कोई सीरीज अंकित नहीं है, लेकिन सी सीरीज के प्रश्नपत्र से मेल खाते हैं। आयोग की अपील पर छात्रों ने इस सम्बन्ध में आयोग के ईमेल पर साक्ष्य मुहैया कराए। इससे प्रथम दृष्टया साबित हुआ कि द्वितीय प्रश्नपत्र के प्रश्न व उसके उत्तर 11 फरवरी 2024 को परीक्षा प्रारम्भ होने के नियत समय 2:30 बजे से पूर्व सार्वजनिक हो चुके थे। इसके अलावा प्रथम प्रश्नपत्र के प्रश्न व उसके उत्तर भी पूर्व में सार्वजनिक होने के प्रमाण मिले हैं। पेपर कहां से और कैसे लीक हुआ, इसकी जांच अब सिविल लाइंस पुलिस कर रही है।

30 हजार की छात्रवृत्ति फंसी 

प्रयागराज। दश्मोत्तर कक्षाओं (11वीं और 12वीं के अतिरिक्त) के लगभग 30 हजार छात्र-छात्राओं की छात्रवृत्ति फंस गई है। इन छात्रों के के नाम की स्पेंलिंग, माता-पिता के नाम की गड़बड़ी या किसी भी सूचना का मिलान न होने के कारण छात्रवृत्ति नहीं सकी है। अब समाज कल्याण विभाग ने स्कूलों को सही डाटा लेकर 10 मार्च तक आवेदन करने के लिए कहा है। इस तारीख के बाद आवेदन रद्द कर दिए जाएंगे। अनुसूचित जाति, जनजाति और सामान्य वर्ग के छात्र-छात्राओं का समाज कल्याण विभाग से छात्रवृत्ति दी जाती है। जिला समाज कल्याण अधिकारी डॉ. प्रज्ञा पांडेय ने बताया कि अब तक लगभग 30 हजार छात्र-छात्राएं ऐसे हैं जिनका डाटा संदिग्ध हैं।

दो केंद्र व्यवस्थापकों को नोटिस भेजी 

लखनऊ, कार्यालय संवाददाता। यूपी बोर्ड परीक्षा में सोमवार को पहली पाली में हाईस्कूल अंग्रेजी और इंटरमी़डिएट की कंप्यूटर, शस्य विज्ञान एवं कृषि विषय की परीक्षा हुई। जिला विद्यालय निरीक्षक और सचल दस्तों ने परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण किया। जिम्मेदारी का सही निर्वहन नहीं करने पर दो केंद्र व्यवस्थापको को नोटिस जारी की गई।परीक्षा केन्द्र एनकेएम इंटर कॉलेज और राजकीय हाईस्कूल परहेटा मोहनलाल गंज में निरीक्षण के दौरान पाया गया कि केन्द्र व्यवस्थापक अपने दायित्वों का निर्वाहन सही ढंग से नहीं कर रहे हैं। परीक्षा कक्षा में सीटिंग प्लान एवं कक्ष निरीक्षक ड्यूटी भी मानको के अनुसार नहीं लगी है। जिस कारण एनकेएम इंटर कॉलेज की वाह्य केन्द्र व्यवस्थापक नीलम यादव और राजकीय हाईस्कूल परहेटा की वाहृय केन्द्र व्यवस्थापक गुंजन मेहरोत्रा को नोटिस जारी कर एक दिन में स्पष्टीकरण मांगा गया। पहली पाली में 55,981 छात्र-छात्राएं पंजीकृत थे। जिसमें 53,164 ने परीक्षा दी और 2817 छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी। वहीं दूसरी पाली में इंटर में भौतिक विज्ञान, मनोविज्ञान, शिक्षा शास्त्रत्त् एवं तर्कशास्त्रत्त् विषय की परीक्षा हुई। 33,281 छात्र-छात्राएं पंजीकृत थे। जिसमें 31721 ने परीक्षा दी और 1560 ने परीक्षा छोड़ दी। बता दें कि जिला विद्यालय निरीक्षक राकेश कुमार पाण्डेय ने दयानन्द इंटर कॉलेज परीक्षा केन्द्र का भी निरीक्षण किया।

आईएससी बोर्ड

इसके साथ ही आईएससी 12 के छात्रों ने फिजिक्स विषय की परीक्षा दी। परीक्षा देकर बाहर निकले परीक्षार्थियों ने बताया प्रश्न पत्र का प्रारूप बदला हुआ था, इसलिए हल करने में थोड़ी समस्या हुई। हालांकि पूर्व में बताया जा चुका था कि प्रश्न पत्र का प्रारूप कुछ बदला होगा।

मदरसों के आधुनिकीकरण की मांग पर गंभीर:दानिश 

लखनऊ, संवाददाता। अल्पसंख्यक कल्याण राज्यमंत्री दानिश आजाद अंसारी ने मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों की समस्याओं के समाधान का आश्वासन देकर सोमवार को उनका धरना खत्म कराया। प्रेस क्लब में आयोजित मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षक एकता समिति के सम्मेलन में उन्होंने कहा कि सरकार मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों की बेहतरी और विकास के लिए जो भी जरूरी होगा करेगी।उन्होंने कहा प्रधानमंत्री के आधुनिक शिक्षा के विजन को हमको धरातल पर ईमानदारी से पहुंचाना है। योगी सरकार ने मदरसा आधुनिकीकरण की जो बात की यह शिक्षक उसके आगे बढ़ाने वाले हैं। निश्चित तौर पर इनके विकास के लिए जो मांग हैं उनके प्रति हमारी सरकार संजीदा है। मदरसा शिक्षकों की मांगों को मुख्यमंत्री जी तक पहुंचाया जाएगा। आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। मानदेय के लिए केन्द्रांश और राज्यांश का एक प्रविधान है।

शिक्षिका से रेप, वीडियो बनाकर किया ब्लैकमेल 

बाराबंकी। निजी कॉलेज में पढ़ाने वाली एक शिक्षिका ने अपने पुरुष मित्र पर रेप करने का आरोप लगाया है।पीड़िता ने वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है। इस मामले में पीड़िता ने मुख्य आरोपी समेत तीन लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया है। नगर कोतवाली क्षेत्र में रहने वाली एक युवती ने बताया कि वह एक निजी कॉलेज में शिक्षका थी। वर्ष 2016 में उसके साथ पढ़ने वाली आमिन खान के माध्यम से उसके मुंह बोले भाई रेहान खान निवासी पैगारामऊ थाना कुर्सी से उसकी दोस्ती हुई थी। वह दोनों दोस्त की तरह मिलते थे। पीड़िता का आरोप है कि रेहान लगातार शादी करने का दबाव बनाता था। उसने एक दिन उसके साथ रेप किया और उसका वीडियो बना लिया। इसके बाद से वह लगातार उसे ब्लैकमेल कर रहा था। वर्ष 2020 में रेहान ने शादी कर ली। इसके बाद भी वह उसे लगातार ब्लैकमेल करता था। पीड़िता ने बताया कि 29 फरवरी 2024 को रेहान ने ब्लैकमेल कर उसे चौपुला पर बुलाया था। उसके साथ उसका साथी मुनीफ भी था।रेहान ने उसका मोबाइल छीन लिया और अभद्रता करता रहा। इसमें मुनीफ ने उसका पूरा साथ दिया। पीड़िता की तहरीर पर नगर कोतवाली पुलिस ने तीनों आरोपियों पर मुकदमा दर्ज किया है

फीडिंग न होने से बेसिक शिक्षकों का वेतन अटका

प्रयागराज।हर माह की एक या दो तारीख को मिलने वाला वेतन बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों को उसके दो दिन बाद भी नहीं मिल सका है। फरवरी माह के वेतन से होने वाली आयकर कटौती की गणना कर फीडिंग करने में ढिलाई बरतने का आरोप शिक्षकों ने खंड शिक्षाधिकारियों तथा वित्त एवं लेखाधिकारी पर लगाया है। माह के चार दिन बीतने पर भी वेतन नहीं मिलने से गृह ऋण, बीमा पालिसी एवं तय तिथि पर किए जाने वाले अन्य भुगतान वह नहीं कर पा रहे हैं, जिससे वे डिफाल्टर हो रहे हैं। बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में करीब पांच लाख शिक्षक कार्यरत हैं। आमतौर पर हर माह की एक तारीख को वेतन मिल जाता है। अवकाश की स्थिति में उसके अगले दिन मिलता है। फरवरी माह में आयकर की कटौती होती ह
आरटीई नौ हजार से अधिक बच्चे चुने

लखनऊ। आरटीई में निजी स्कूलों में निशुल्क प्रवेश के आवेदन जारी है। दूसरे चरण के आवेदन किए जा रहे हैं। वहीं पहले चरण की सूची जारी कर दी गई है। पहले चरण की प्रवेश प्रकिया छह मार्च तक पूरी करनी है।पहले चरण में 12,953 आवेदन निजी स्कूलों में लिए थे। 9,691 बच्चों को विद्यालयों का आवंटन कर दिया। बीएसए राम प्रवेश ने बताया कि चयनित बच्चों की सूची अनुमोदन के लिए डीएम के पास जाएगी।उन्होंने कहा कि पहली सूची में जिनकाआवंटन नहीं हुआ, वो दूसरे चरण या बाद के चरणों में आवेदन कर सकते हैं।

आश्रम पद्धति विद्यालय में प्रवेश को आवेदन 15 तक 

सिद्धार्थनगर, निसं। पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय आश्रम पद्धति बालिका इंटर कॉलेज धनगढ़िया में आवासीय व्यवस्था के तहत कक्षा छह से 12 तक में प्रवेश के लिए 126 सीटें रिक्त हैं। इसमें प्रवेश के लिए 15 मार्च तक आवेदन कर सकते हैं।समाज कल्याण अधिकारी डॉ. राहुल गुप्त ने बताया कि शोहरतगढ़ तहसील अंतर्गत पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय आश्रम पद्धति बालिका इंटर कॉलेज धनगढ़िया में आवासीय व्यवस्था के तहत विभिन्न कक्षाओं में 126 सीटों पर नामांकन के लिए आवेदन मांगा गया है। कक्षा छह में अनुसूचित जाति के लिए 42, पिछड़ा वर्ग के लिए 18, सामान्य वर्ग के लिए 10 सीटें, कक्षा सात में सामान्य वर्ग के लिए छह सीटें, कक्षा आठ में अनुसूचि जाति के लिए नौ, सामान्य वर्ग के लिए आठ सीटें, कक्षा नौ में अनुसूचि जाति के लिए 14, पिछड़ा वर्ग के लिए छह, सामान्य वर्ग के लिए नौ सीटें, कक्षा 11 में सामान्य वर्ग के लिए चार सीटें रिक्त हैं।ा

Related Articles

Back to top button