WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.15 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (1)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (2)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.17 PM (1)
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
previous arrow
next arrow
उज्जैनदेश-विदेशराष्ट्रीय

महादेव का महापर्व:उज्जैन में 18 लाख से ज्यादा दीये जलाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड; काशी और महाकाल में सात-सात लाख भक्तों ने किए दर्शन

शिव-पार्वती के विवाह उत्सव शिवरात्रि पर देशभर के शिव मंदिरों पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी है। उज्जैन में शिव ज्योति अर्पणम कार्यक्रम में क्षिप्रा नदी के तट पर एक साथ 18 लाख 82 हजार दीये जलाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बना है। इससे पहले, अयोध्या के दीपोत्सव में एक साथ 15 लाख 76 हजार दीये जलाने का रिकॉर्ड था। इस कार्यक्रम को विश्व का सबसे बड़ा जीरो वेस्ट इवेंट बताया गया ।।

इधर, वाराणसी में भी शिवरात्रि पर भक्तों की संख्या का नया रिकॉर्ड बना। यहां शनिवार शाम 6 बजे तक सात लाख से ज्यादा भक्तों ने काशी विश्वनाथ के दर्शन किए। यह एक दिन में सबसे ज्यादा श्रद्धालुओं का रिकॉर्ड है। पिछले साल शिवरात्रि पर 6 लाख लोगों ने दर्शन किए थे। वहीं, उज्जैन के महाकाल मंदिर में भी करीब सात लाख श्रद्धालु पहुंच चुके हैं। दोनों ही जगह दर्शन का सिलसिला अभी भी जारी है।

हम आपको सोमनाथ, महाकालेश्वर, विश्वनाथ और वैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग के साथ देशभर के मंदिरों के दर्शन भी कराएंगे, लेकिन इससे उज्जैन में शिव ज्योति अर्पणम कार्यक्रम में पहले तस्वीरें क्षिप्रा तट पर 18 लाख दीये जलाने की तस्वीरें देख लीजिए…

क्षिप्रा नदी के किनारों पर दीयों को पैटर्न्स में सजाया गया था। रोशन होने के बाद ये बेहद खूबसूरत नजर आ रहे थे।
क्षिप्रा नदी का ड्रोन व्यू, इसमें नजर आ रहा है कि दीयों की रोशनी से दोनों किनारे करीब एक किलोमीटर की लंबाई में रोशन हो गए।
शिव ज्योति अर्पणम कार्यक्रम के लिए उज्जैन नागरिकों ने भी सहयोग किया। शाम को नागरिक नदी तट पर मौजूद रहे।
क्षिप्रा नदी के तट पर वॉलंटियर्स ने दीये जलाए। हर सेक्टर में इनके अलग-अलग गुप्स की तैतानी की गई थी।
उज्जैन में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के सर्टिफिकेट के साथ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।
जिस समय 18 लाख दीये जलाए जा रहे थे, उसी समय क्षिप्रा की आरती भी शुरू हो गई थी। यह नजारा बेहद खूबसूरत था।

Related Articles

Back to top button