WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.15 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (1)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (2)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.17 PM (1)
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
previous arrow
next arrow
उत्तरप्रदेश
Trending

तेलंगाना सीएम को बादल फटने की पीछे विदेशी शक्तियों का शक कहा कोई दुश्मनी निकाल रहा

तेलंगाना सीएम को बादल फटने की पीछे विदेशी शक्तियों का शक कहा कोई दुश्मनी निकाल रहा

हैदराबाद संवाददाता द्वारा

तेलंगाना मुख्यमंत्री केसीआर ने रविवार को बारिश व बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया. उन्होंने भद्राचलम का दौरा करने के बाद एक बैठक को संबोधित करते हुए एक अजीबो-गरीब बयान दिया.

उन्होंने कहा कि तेलंगाना की बारिश के पीछे

विदेशी ताकतों का हाथ होने की आशंका है.

मुख्यमंत्री केसीआर ने कहा, बादल फटने जैसी एक नई बात सामने आई है. मुझे नहीं पता कि यह कहां तक सही है. मुझे लगता है कि देश के बाहर से कोई बादल फटने की घटना को अनजाम देकर दुश्मनी निकाल रहा है. इससे पहले लद्दाख के पास लेह में फिर उत्तराखंड में और अब गोदावरी बेसिन में बादल फटने की घटना हो रही है. उन्होंने कहा कि कुछ भी हो मौसम में बदलाव के कारण जो परिस्थितियों बनी हैं, उसमें हमें लोगों की रक्षा करनी है.’

तेलंगाना सीएमओ ने ट्वीट किया कि मुख्यमंत्री केसीआर ने भद्राचलम से एटुरुनगरम तक गोदावरी बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया है. उन्होंने उफनाई गोदावरी नदी की का भी दौरा किया. इसके अलावा तेलंगाना मे बाढ़ में डूबे सबसे ज्यादा प्रभावित गांवों का भी दौरा किया. निरीक्षण के दौरान सीएम ने ‘गंगम्मा’ (गोदावरी नदी) की पूजा भी की.

प्रभावितों के लिए 10 हजार करोड़ की मदद का ऐलान

तेलंगाना सीएम ने कहा कि बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित भद्रचलम, बरगमपाडु और पिनापक्का क्षेत्रों में किसी की जान नहीं गई है. मुख्यमंत्री ने बाढ़ पीड़ितों के लिए ऊंचे स्थानों पर स्थायी कॉलोनियां बनाने के लिए 1000 करोड़ रुपये की घोषणा की. सहायता के रूप में सीएम केसीआर ने बाढ़ प्रभावित परिवारों को तत्काल सहायता के रूप में 10 हजार रुपये की भी घोषणा की.

इसके अलावा 2 महीने तक हर परिवार को 20 किलो चावल व अन्य मदद देने का भी ऐलान किया है. बाढ़ में अपनी फसल गंवाने वाले किसानों के नुकसान की समीक्षा करने और प्रभावित किसानों को उचित सहायता प्रदान करने के लिए भी किसानों को आदेश दिया है.

71.30 फुट पहुंच गया था गोदावरी का जल स्तर

न्यूज एजेंसी भाषा के मुताबिक भद्राचलम शहर में गोदावरी नदी का जल स्तर शनिवार तड़के 71.30 फुट के रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गया था. भद्राचलम में तृतीय चेतावनी स्तर 53 फुट है. वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भद्राद्री-कोठागुडेम जिले में शनिवार को करीब 26,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया था

Related Articles

Back to top button