WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.15 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (1)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (2)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.17 PM (1)
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
IMG_20240301_142817
previous arrow
next arrow
उत्तरप्रदेश
Trending

गौतम बुध नगर में पंकज सिंह तेजपाल नागर एवं धीरेंद्र सिंह में किसी एक को मंत्री बनना तय

Https://www.shekharnews.com
ग्रेटर नोएडा [मनीष तिवारी]। विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करने के बाद मंत्री पद पाने की अटकलें तेज हो गई हैं। गौतमबुद्ध नगर के साथ ही भाजपा ने गाजियाबाद, हापुड़ व बुलंदशहर में भी क्लीन स्वीप किया है।
ऐसे में तीनों जिले से एक-एक विधायक के मंत्री बनने की अटकलें लगाई जा रही हैं।
जातिगत समीकरण को साधते हुए मंत्रीमंडल गठन की उम्मीद है। गौतमबुद्ध नगर की झोली में एक मंत्रीपद आ सकता है। देखना है जिले के तीन में से किस विधायक की किस्मत चमकती है।
गौतमबुद्ध नगर में विधानसभा की तीन सीट नोएडा, दादरी व जेवर है। 2017 में कमाल का प्रदर्शन करते हुए नोएडा से पंकज सिंह, दादरी से तेजपाल नागर व जेवर से धीरेंद्र सिंह ने जीत दर्ज की थी।
पहली बार जिले की तीनों सीटें भाजपा के खाते में गई थी। तीनों लोग पहली बार विधायक चुने गए थे। इस कारण मंत्रीमंडल में किसी को भी जगह नहीं मिली थी। पिछले एक-दो साल से चर्चाएं चल रही थीं कि जिले के एक विधायक को मंत्री बनाया जा सकता है, लेकिन चर्चा पर मुहर नहीं लगी थी।
2022 के विधानसभा चुनाव में पार्टी ने तीनों विधायकों पर दांव लगाया। कमाल का प्रदर्शन करते हुए तीनों ने न सिर्फ जीत दर्ज की बल्की पिछली बार के मुकाबले दोगुने वोट से जीते। पंकज सिंह ने रिकार्ड बनाया है। उन्होंने 1,81,513 वोटों से प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी जीत दर्ज की है। वह केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बेटे हैं। दोनों ही लिहाज से मंत्री पद के लिए उनकी स्थिति सबसे मजबूत मानी जा रही है।
गुर्जर समाज के विरोध के बावजूद दादरी सीट से तेजपाल नागर ने 1,38,218 वोटों के बड़े अंतर से विजयी हुए हैं। साथ ही उनकी बदौलत भाजपा प्रत्याशियों को जिले के साथ ही गाजियाबाद, हापुड़ व बुलंदशहर में गुर्जर समाज का भारी वोट मिला। इस बार भाजपा के टिकट पर पांच गुर्जर तेजपाल सिंह नागर, नंद किशोर गुर्जर, सोमेंद्र तोमर, कीरत सिंह गुर्जर व मुकेश चौधरी विजयी हुए हैं।
पांच में से एक गुर्जर विधायक का मंत्री बनना तय माना जा रहा है। दादरी को गुर्जर समाज का गढ़ माना जाता है। ऐसे में तेजपाल नागर की किस्मत भी चमक सकती है। जेवर विधायक धीरेंद्र सिंह ने इस बार पिछले वर्ष के मुकाबले अच्छा प्रदर्शन करते हुए 56,315 वोटों से जीत दर्ज की है।
उन्हें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बेहद करीबी माना जाता है। प्रथम चरण के प्रचार के अंतिम दौर में जेवर में मुख्यमंत्री ने जनसभा की थी और धीरेंद्र सिंह के घर बैठकर मुख्यमंत्री ने आधे घंटे तक चुनावी चर्चा भी की थी।
प्रदेश के दस विधानसभा सीटों में जेवर भी शामिल है जहां पर प्रदेश सरकार ने सबसे अधिक विकास कार्य कराए हैं। जेवर में लगभग 36 हजार करोड़ रुपये से अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, फिल्मी, मेडिकल डिवाइस पार्क व अन्य विकास कार्य चल रहे हैं।
इस सभी चीजों को देखते हुए मंत्री पद की दौड़ में धीरेंद्र सिंह सबसे आगे हैं। सूत्रों की मानें तो मंत्री पदों के लिए भाजपा ने अंदरखाने सभी के नामों पर विचार करना शुरू कर दिया है। जल्द ही नामों की घोषणा हो सकती है।

Related Articles

Back to top button