WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.15 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (1)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM (2)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.16 PM
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.17 PM (1)
WhatsApp Image 2024-01-08 at 6.55.17 PM
previous arrow
next arrow
उत्तरप्रदेश
Trending

देश के 141 प्रदूषित शहरों में 428 एक्यूआई के साथ गाजियाबाद अव्वल, दिवाली के छह दिन बाद भी नहीं सुधरे हालात

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के लगातार छठे दिन गंभीर हालत हैं।गाजियाबाद देश का सबसे प्रदूषित शहर है। 141 शहरों की सूची में 428 एक्यूआई के साथ सबसे बदतर वायु गुणवत्ता गाजियाबाद की है बुलंदशहर से लेकर पानीपत तक हवा की गंभीर स्थिति, अगले दो दिनों में सुधार के आसार नहीं
दिवाली के छह दिन बाद भी एनसीआर के शहरों की हवा दमघोंटू बनी हुई है।  गाजियाबाद में वायु गुणवत्ता लगातार गंभीर श्रेणी में बनी हुई है। बुधवार को यह 141 शहरों की सूची में देश का सबसे प्रदूषित शहर दर्ज किया। इसके साथ बुलंदशहर से लेकर पानीपत तक के हालात गंभीर बने हुए हैं। अगले दो दिनों तक हवा के बिगड़े हालात रहने का पूर्वानुमान है। आगामी 13 नवंबर से वायु गुणवत्ता का स्तर सुधर सकता है।
सफर के मुताबिक, पड़ोसी राज्यों में लगातार पराली जलने की घटनाएं दर्ज हो रही हैं। बीते 24 घंटे में 5317 पराली जलाई गई हैं। इससे उत्पन्न होने वाले पीएम 2.5 की प्रदूषण में 27 फीसदी हिस्सेदारी रही। हवा की दिशा उत्तर-पश्चिम बनी हुई है, लेकिन रफ्तार हल्की बनी हुई है। इस वजह से पराली का धुआं कम मात्रा में दिल्ली-एनसीआर तक पहुंचा है।सफर का पूर्वानुमान है कि अगले दो दिनों में हवा की रफ्तार बढ़ेगी और पराली का धुआं दिल्ली-एनसीआर में बढ़ने लगेगा। इससे वायु गुणवत्ता को बिगड़ने में मदद मिलेगी। साथ ही स्थानीय स्तर पर चलने वाली हवाओं की धीमी रफ्तार के कारण प्रदूषण का फैलाव कम होगा और यह एक ही जगह पर अधिक समय तक जमा रहेगा। इससे प्रदूषण की चादर दिल्ली-एनसीआर पर छाई रह सकती है। बुधवार को हवा में पीएम 10 का स्तर 321 व पीएम 2.5 का स्तर 198 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रहा।
गाजियाबाद के अलावा एनसीआर में इन शहरों के भी गंभीर रहे हालात
बुलंदशहर- 409
हापुड़- 412
बागपत-409
जिंद-407
कैथल-410
पानीपत-417

Related Articles

Back to top button